अखिलेश के गढ़ में घमासान : इस दिग्गज नेता ने भतीजे का साथ छोड़ थामा चाचा शिवपाल का हाथ..

Image result for अखिलेश शिवपाल वर

शाहजहांपुर. । सपा-बसपा गठबंधन के बाद प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) ने दोनों पार्टियों पर हमले तेज कर दिए हैं। पूर्व सांसद व प्रसपा के प्रमुख महासचिव वीरपाल सिंह यादव ने रविवार को पीडब्लूडी गेस्ट हाउस में सपा-बसपा गठबंधन पर निशाना साधते हुये इसे बुआ-बबुआ का काल्पनिक गठबंधन बताया। उन्होंने कहा कि बसपा का पूर्व इतिहास याद रखना चाहिए।

मायावती ने तीन बार भाजपा को अपना समर्थन देकर दलित वोटों को बेच डाला। इस अवसर प्रमुख महासचिव ने सपा नेता राजीव सक्सेना को पार्टी में शामिल करके उन्हें नगर विधानसभा प्रभारी की जिम्मेदारी सौंपी। उन्होंने कहा कि राजीव सक्सेना के पार्टी में शामिल होने से पार्टी को नई मजबूती मिलेगी।

राजीव 2017 के यूपी विधानसभा चुनाव में नगर विधानसभा से अभनेता से नेता बने राजपाल यादव की पार्टी से ताल ठोंक चुके हैं। राजीव सक्सेना कायस्थ वोटरों को प्रसपा के पक्ष में लाने में कामयाब हुए तो उन्हेांने पार्टी में बड़ी जिम्मेदारी और पद मिल सकता है। इस दौरान जिला उपाध्यक्ष प्रतीक तिवारी, शुभम् गुप्ता उर्फ रूबल, शिवराज सिंह यादव, अश्विनी कुमार, ज़ीशन अंसारी सोनू गुप्ता आदि शामिल रहे।

What do you think?

-1 points
Upvote Downvote

रातभर बेचैन रहा बलात्कारी राम रहीम, सुबह भगवान को याद कर बोला..

गणतंत्र दिवस के पहले इंडियन मुजाहिद्दीन के दो आतंकी गिरफ्तार…