डिजिटल रेलवे: एप से भेजें गंदगी की तस्वीर, विभाग भेजेगा साफ तस्वीर

बेगूसराय । रेलवे को पूरी तरह से डिजिटल करने की कड़ी में स्वच्छता के लिए रेलवे ने स्वच्छ मैप एप शुरू किया है। स्टेशन परिसर, प्लेटफार्म या ट्रेन में गंदगी दिखे तो अपने मोबाइल में एप डाउनलोड करके, फोटो खींच कर एप के जरिए रेलवे के अधिकारियों को भेजें। सफाई के बाद विभाग आपको नया फोटो भेजेगा। पूर्व मध्य रेलवे द्वारा बरौनी जंक्शन समेत 16 स्टेशन पर यह व्यवस्था शुरू की गई है। शेष स्टेशनों पर भी यह सेवा जल्द ही शुरू होगा।

कैसे करेगा काम:

इसके लिए रेल यात्री को अपने स्मार्टफोन में गूगल प्ले स्टोर या एप स्टोर की मदद से रेलवे द्वारा लांच की गई ‘स्वच्छ मैप’ एप डाउनलोड करना होगा। इस एप में मौजूद कैमरे की मदद से रेलयात्री रेल परिसर या ट्रेनों में व्याप्त गंदगी की तस्वीर लेकर सीधा इसकी शिकायत कर सकेंगे। इसके बाद रेलवे उस जगह की सफाई कर के साफ फोटो भेजेगा। इसकी मॉनिटरिंग स्टेशन के संबंधित विभाग के सुपरवाइजर से लेकर रेलवे मंडल एवं मुख्यालय तक के संबंधित विभाग के अधिकारी करेंगे।

नहीं हो पाएगी झूठी शिकायत: 

इस एप के जरिए रेल यात्री किसी अन्य जगह की फर्जी फोटो भेज कर झूठी शिकायत दर्ज नहीं करवा सकते। एप में ऐसी व्यवस्था की गई है, जिसके तहत उक्त एप का कैमरा रेलवे स्टेशन में ही एक्टिव हो पाएगा।

शिकायत को नहीं कर सकेंगे नजरअंदाज: 

रेल परिसर एवं इस रेलखंड से गुजरने वाली ट्रेनों की सफाई व्यवस्था से असंतुष्ट हैं तो आप इसकी ऑनलाइन शिकायत मौके पर मौजूद गंदगी के साथ संबंधित मुख्यालय, रेल मंडल कार्यालय तक को साझा कर सकते हैं। आपकी शिकायत को संबंधित विभाग के अधिकारी, कर्मचारी एवं पर्यवेक्षक किसी भी हाल में नजरअंदाज नहीं कर पाएंगे। बल्कि आपकी शिकायत पर अमल कर उक्त गन्दगी की साफ सफाई के बाद उसका नया फोटो उन्हें आपको भेजना ही पड़ेगा। इससे जहां एक ओर रेल परिसर एवं ट्रेनों में साफ-सफाई बनाए रखने में मदद मिलेगी, वहीं यात्रियों में स्वच्छता के प्रति जागरूकता पैदा होगी।

रेल मंत्री ने दिया था आदेश:

रेल मंत्री पियूष गोयल ने सभी मुख्यालय को एप तैयार कराने का निर्देश दिया था। इसी आलोक में पूर्व मध्य रेलवे ने सॉफ्टवेयर कंपनी इंटेल की मदद से स्वच्छ मैप एप बनाकर लांच किया। जो रेल यात्रियों को रेल परिसर व ट्रेनों की गंदगी की तस्वीर सहित ऑनलाइन शिकायत करने में मदद करेगी।

वर्तमान व्यवस्था: 

एक जुलाई 2018 से रेलवे ने बरौनी जंक्शन के सभी प्लेटफार्मों एवं रेल ट्रैकों की सफाई व्यवस्था संभालने के लिए लखनऊ के निजी कंपनी निशांत एंटरप्राइजेज को जवाबदेही सौंपी है। कंपनी को इस सफाई व्यवस्था के लिए प्रतिदिन 88 से अधिक सफाई कर्मियों को लगाना होगा। कई अत्याधुनिक सफाई मशीनों की व्यवस्था भी सुनिश्चित की गई है।

मुख्य जनसंपर्क पदाधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि स्वच्छ मैप एप चालू होने के बाद रेल परिसर एवं ट्रेनों की स्वच्छता में काफी सुधार हुआ है। फिलहाल पूर्व मध्य रेलवे के बरौनी, क्यूल, पटना, हाजीपुर समेत 16 स्टेशनों पर यह व्यवस्था लागू है। अगले चरण में अन्य स्टेशनों पर भी यह शुरू किया जाएगा।

What do you think?

0 points
Upvote Downvote

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ प्रिया का लिपलॉक सीन, VIDEO ने उड़ाए लोगो के होश..

एयरपोर्ट पर रोकने के मामले में अखिलेश के साथ आयीं मायावती, योगी ने बोला हमला