लोकसभा चुनाव : प्रियंका गाँधी का ख़त, लिखा-यूपी की राजनीति बदलनी है…

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा लखनऊ में पार्टी नेताओं के साथ।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि उनका उत्तर प्रदेश से पुराना नाता है। वो यहां की जनता के विचारों को जानने व समझने के लिए यहां के लोगों से सच्चा संवाद करेंगी। इस अभियान के दौरान वो सड़क मार्ग, जल मार्ग, पैदल यात्रा कर लोगों के विचार जानेंगी। प्रियंका ने रविवार को उत्तर प्रदेश के चार दिवसीय यूपी दौरे पर निकलने से पहले यहां एक पत्र जारी कर कहा कि उनका उत्तर प्रदेश से पुराना नाता है। इस पत्र में उन्होंने उत्तर प्रदेश की जनता को संबोधित करते हुए कहा कि वो यूपी की धरती से आत्मिक रूप से जुड़ी हैं। उन्होंने कहा कि वो यहां के लोगों की समस्याओं को समझने के लिए उनसे सच्चा संवाद करेंगी। यहां की जनता से जुड़ने के लिए वो जल मार्ग, बस, ट्रेन, पदयात्रा, सभी साधनों के जरिए लोगों से संपर्क करेंगी।

प्रियंका ने कहा कि गंगा सच्चाई और समानता की प्रतीक हैं और हमारी गंगा- जमुनी संस्कृति का प्रतीक हैं। वो किसी से भेदभाव नहीं करतीं। गंगाजी उत्तर प्रदेश का सहारा हैं और वो गंगाजी का सहारा लेकर भी लोगों के बीच पहुंचेगी। उल्लेखनीय है कि प्रियंका गांधी अपने चुनावी अभियान की शुरुआत गांधी परिवार के पैतृक शहर प्रयागराज यानी इलाहाबाद से करेंगी।

18 मार्च से 20 मार्च तक वो प्रयागराज से वाराणसी के बीच गंगा नदी में जलमार्ग से यात्रा करेंगी और इस दौरान उनके जनसंपर्क और कई अन्य कार्यक्रम रखे गए हैं।

Priyanka Gandhi Vadra (Photo-AP)

पत्र में गंगा को लेकर खास संदेश 
इस दौरे पर प्रियंका प्रयागराज से वाराणसी गंगा के रास्ते स्टीमर से जाएंगी। इस यात्रा के बारे में अपने पत्र में भी जिक्र किया है। पत्र में उन्होंने लिखा है, गंगा सच्चाई और समानता की प्रतीक है और हमारी गंगा-जमुनी संस्कृति की चिह्न है। वह किसी से भेदभाव नहीं करतीं और गंगाजी उत्तर प्रदेश का सहारा हैं। मैं गंगाजी का सहारा लेकर आपके बीच पहुंचूंगी।’ गौरतलब है कि अपने यूपी दौरे के लिए कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा लखनऊ पहुंच चुकी हैं। यहां वह प्रदेश कार्यालय में पार्टी नेताओं के साथ बैठक करेंगी। बैठकों का दौर शाम सात बजे तक चलेगा। लखनऊ के बाद वह पूर्वांचल के दौरे पर जाएंगी और गंगा में स्‍टीमर के जरिए यात्रा करके अगले तीन दिनों तक जनसभाओं और रैलियों में हिस्सा लेंगी। इसके बाद उनका दौरे के दूसरे चरण में स्‍टीमर के जरिए ही यूपी के बलिया से बिहार के छपरा तक जाने का भी कार्यक्रम है।

बताते चले कांग्रेस महासचिव ने अपने पत्र में लिखा है कि प्रदेश की राजनीति में आज एक ठहराव आ चुका है जिससे युवा, महिलाएँ, किसान और मजदूर परेशानी में हैं। वे अपनी बात-अपनी पीड़ा साझा करना चाहते हैं, लेकिन राजनीतिक गुणा-गणित के शोर में उनकी आवाज प्रदेश की नीतियों से पूरी तरह गायब है।

priyanka-letter_031719121645.jpg
उन्होंने लिखा “मैं इस धरती से आत्मिक रूप से जुड़ी रही हूँ। मैं मानती हूँ कि प्रदेश में किसी भी राजनीतिक परिवर्तन की शुरुआत आपकी बात सुने बगैर-आपकी पीड़ा को साझा किये बगैर नहीं हो सकती है इसलिए सीधा आपसे एक सच्चा संवाद करने मैं आपके द्वार पहुँच रही हूँ।”

Image result for प्रियंका गांधी
श्रीमती वाड्रा ने लोगों को विश्वास दिलाया कि उनकी बातों को सुनकर सच्चाई और संकल्प की बुनियाद पर कांग्रेस राजनीति में परिवर्तन लायेगी और एक साथ मिलकर मुद्दों को हल करेगी।

Image result for प्रियंका गांधी
उन्होंने कहा कि वह जल मार्ग, बस, ट्रेन और पदयात्रा समेत सभी साधनों से लोगों से संपर्क करेंगी। उन्होंने लिखा है “गंगा सच्चाई एवं समानता और हमारी गंगा-जमुनी संस्कृति का प्रतीक है। गंगाजी उत्तर प्रदेश का सहारा हैं। मैं गंगाजी का सहारा लेकर भी आपके बीच पहुँचूँगी।”

What do you think?

0 points
Upvote Downvote

माँ गंगा का आशीर्वाद लेकर चुनावी मिशन की शुरुआत करेंगी प्रियंका

राजस्थान में महसूस किये गए भूकम्प के तेज झटके, घरों में आयी दरारें